कीवर्ड क्या है

कीवर्ड क्या है और कीवर्ड रिसर्च कैसे करते है

आज हम जानेंगे की कीवर्ड क्या है और आप किस तरह से कीवर्ड रिसर्च कर सकते है. अगर आप अपनी खुद एक वेबसाइट या ब्लॉग शुरू करना चाहते है तो आपको इसके बारे में पता होना बहुत ज्यादा जरुरी है.

अगर आप अपना खुद का ब्लॉग या वेबसाइट बनाना चाहते है तो आज हम बहुत ही important topic के ऊपर बात करने वाले है. में topic को शुरू करने से पहले आपसे यहीं कहना चाहूँगा की आप सिर्फ 5 मिनट के लिए अपने दुसरे कामो को छोड़ दें और इस पोस्ट को बहुत ध्यान से पढ़े. क्यूंकि हम नहीं चाहते की आपसे कोई भी important information छुट जाएँ या फिर आपको आधी अधूरी जानकारी मिलें.

इस लेख में हम आपको बताएँगे की Keyword क्या है और आप एक अच्छा कीवर्ड कैसे निकाल सकते है. बहुत सारे beginners को इसके बारे में जानकारी नहीं होती और कुछ लोग ऐसे भी होते है जो इसके बिना ही अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को Lounch कर देते है. परिणामस्वरूप उनके वेबसाइट पर ना तो ट्रैफिक आता है और ना ही वो अपने लक्ष्य तक पहुँच पाते है.

इसीलिए में आपसे 5 मिनट निकालने के लिए कह रहा हूँ ताकि आप सही तरीके से अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को शुरू कर सको और अपने लक्ष्य तक पहुँच सको. चलिए शुरू करते है.

कीवर्ड क्या है – What is Keyword in Hindi

यह एक तरह का sentence होता है जिससे यूजर के interest का पता चलता है. हम और simple शब्दों में आपको बताते है. यह “Keyword क्या है” एक sentence है जिसे टेक्निकल भाषा में कीवर्ड कहा जाता है.

आप जब भी गूगल में कुछ भी सर्च करते हो तो जाहिर सी बात है आप कोई sentence डालकर ही सर्च करोंगे तभी तो google आपको वो चीज दिखाएगा जो आप देखना चाहते हो. मान लीजिये की आपको एक शूज चाहिए तो आप गूगल में सर्च करोगे “बेस्ट मेन्स शूज” तो यह आपका keyword हो गया.

keywords वेबसाइट के ट्रैफिक को बढ़ाते है. अगर आप अपनी वेबसाइट के ट्रैफिक को बढ़ाना चाहते हो तो आपको SEO Friendly Article लिखना पड़ेगा. SEO Friendly Article लिखने के लिए आपको सबसे पहले एक keyword को टारगेट करना होगा जिसकी search volume भी अच्छी हो और जिसमे competition भी कम हो.

इसके बाद आपको अपने article में target keyword को सही तरह से डालना होगा. जिससे की गूगल को पता चले की अपने किस topic के ऊपर या किस बारे में article लिखा है.

कीवर्ड अर्थ – हिन्दी में कीवर्ड परीभाषा

आप जान गए होंगे कीवर्ड के बारे में. यह ऐसे शब्द होते है जिससे यूजर के interest का पता चलता है. जिनसे पता लगाया जा सकता है की यूजर को क्या चाहिए. कीवर्ड आपके आर्टिकल के बारे में गूगल को जानकारी प्रदान करते है और बताते है की आपका आर्टिकल किस बारे में है जिससे गूगल आपको अच्छे परिणाम दे सकें.

ऊपर हमने आपको इसका उदहारण भी दिया है. जिससे आप और भी अच्छे तरीके से कीवर्ड अर्थ को समझ सकते है.

कीवर्ड के प्रकार – Types of Keywords in Hindi

हम उम्मीद करते है की हम आपको बताने में सफल हो गए होंगे की कीवर्ड क्या है और आप जान भी गए होंगे. चलिए अब जानते है कीवर्ड के कितने प्रकार होते है.

Mostly keywords तीन प्रकार के होते है.

  • Short Tail Keywords
  • Mid Tail Keywords
  • Long Tail Keywords

Short Tail Keyword

Short tail keywords 1 से 2 शब्द के होते है. जैसे की Best Shoes, Best Mobiles और Home Decor. जिन keywords में 1 से 2 शब्द होते है उनको short tail keyword कहा जाता है. इस प्रकार के कीवर्ड पर रैंक कर पाना एक beginner के लिए बहुत मुशकिल होता है.

इन keywords पर वही websites rank कर पाती है जिनकी domain authority अच्छी होती है और गूगल पर जिनको trust होता है. एक नई वेबसाइट इन कीवर्ड पर रैंक नहीं कर सकती.

Mid Tail Keywords

इनमे 2 से 3 words होते है. जैसे Adidas Shoes Men, Best Samsung Mobiles, Home Decor Ideas. इन कीवर्ड को mid tail keyword कहा जाता है. इन keywords में 2 से 3 शब्द होते है. अगर आपकी वेबसाइट एक से दो साल पुरानी है तो आप इन keywords पर रैंक कर सकते हो.

आप एक beginner है तो आपको शुरुआत में mid tail keywords को target नहीं करना है. क्यूंकि इनमे competition अधिक होता है. जब आपकी वेबसाइट 1 से 2 साल पुरानी हो जाए तो आप इन keywords पर काम कर सकते है.

Long Tail Keywords

Long Tail Keywords में 4 या 4 से ज्यादा word होते है. जैसे Adidas Shoes For Men in India, Best Samsung Mobiles in 2021, Decent Home Decor Ideas. इस तरह के keywords को long tail keywords कहा जाता है.

एक beginner के लिए जरुरी है की वो सबसे पहले long tail keywords को टारगेट करें और unique content लिखे. क्यूंकि इन keywords में competition बहुत कम होता है जिससे कोई भी new website को easily rank कराया जा सकता है.

जब आप इन keywords पर काम करोगे तो आपकी website इनके कीवर्ड के साथ साथ Mid Tail Keywords पर भी रैंक करने लगेगी. जब आपको लगे की आपकी वेबसाइट पर अच्छा traffic आ रहा है और google को आपकी website पर trust हो गया है तो आप Short Tail Keywords पर काम करना स्टार्ट कर सकते है.

यह भी देखे: SEO क्या है और कैसे करें

LSI Keywords क्या है

LSI की फुल फॉर्म Latent Sementic Indexing है. यह आपके टारगेट कीवर्ड और कंटेंट में से वो words का पता लगता है जो आपके टारगेट कीवर्ड से मिलते जुलते होते है. अपने कई bloggers को बोलते हुए सुना होगा की content में LSI keywords का इस्तेमाल जरुर करना चाहिए.

जी हाँ और यह बहुत important भी है. आप गूगल में कुछ भी कीवर्ड डालते हो तो साथ में आपको निचे गूगल कुछ ऐसे keywords के suggestions देता है जो आपके keyword से मिलते जुलते है और जिनको यूजर्स search कर रहे है. इनको LSI keywords कहते है.

आपको अपने article में LSI keywords का इस्तेमाल जरुर करना चाहिए. इससे आपका article को fast रैंक होता है.

कीवर्ड रिसर्च कैसे करें

keywords के बारे में इतना सब कुछ जानने के बाद आप जरुर यह सोच रहे होंगे की आखिर Keyword Research कैसे करें और कोनसा तरीका इसके लिए बेस्ट है.

कीवर्ड रिसर्च करने के लिए आप किसी keyword research tool का यूज कर सकते है. जैसे गूगल कीवर्ड प्लानर, SEMRUSH, UBERSUGGEST और इनके अलावा और भी कई tools है पर वो paid है. SEMRUSH और Ubersuggest भी एक paid tool है पर इनमे आपको 2 से 3 searchs आपको फ्री मिल जाएँगे.

Google Keyword Planner पूरी तरह से फ्री है. अगर आप एक beginner है तो आपको long tail keywords को target करना चाहिए. इसके बार जैसे ही आपकी वेबसाइट पर ट्रैफिक आने लगे और आपकी वेबसाइट 1 से 2 साल पुरानी हो जाए तो आप mil tail keywords को भी टारगेट कर सकते है.

Keyword Density क्या है

Keyword density को कीवर्ड का घनत्व भी कहा जाता है. यह हमें बताता है की आपका target कीवर्ड article में कितनी बार इस्तेमाल किया गया है. आपको article में 1 से 2% तक ही keyword density रखनी है.

इससे google के bots को आपके page को fast और सही तरीके से crawl करने में मदद मिलती है. लेकिन आपको ज्यादा बार keyword का इस्तेमाल नहीं करना है.

Keyword Stuffing क्या है

अगर अपने article में टारगेट कीवर्ड को keyword density से भी ज्यादा बार यूज किया है तो इसे keyword stuffing कहते है. आपको इससे बचे रहना है और keyword density के according ही कीवर्ड को आर्टिकल में यूज करना है.

कीवर्ड का प्रयोग कैसे करें

अगर आप अपने article को seo friendly बनाना चाहते है और यह भी चाहते है की पढ़ते समय users को पता नहीं चले की अपने keywords को कितनी बार यूज किया है तो आपको Keyword Placement सही तरीके से करना आना चाहिए.

सबसे पहले आपको Title में कीवर्ड का इस्तेमाल करना है. इसके बाद first paragraph में अपने टारगेट कीवर्ड को डालना है. अगर आप आर्टिकल में कोई image यूज कर रहे है तो Image Alt Tag में आपको keyword डालना है.

कीवर्ड क्यों जरुरी है

चलिए अब जानते है की Keyword का क्या महत्व है. कीवर्ड गूगल को आपके आर्टिकल के बारे में बताते है की अपने किस topic पर आर्टिकल लिखा है. Google पहले उनकी article को रैंक करता है जिनमे keywords का इस्तेमाल सही तरह से किया गया हो.

मान लीजिये की आप keyword क्या है और इसका महत्व पर आर्टिकल लिख रहे है. और अपने इसी कीवर्ड को अपने आर्टिकल में पोस्ट नहीं किया तो गूगल को पता ही नहीं चलेगा की आपका आर्टिकल किस बारे में है.

इसलिए गूगल आपके आर्टिकल को छोड़ कर उन articles को यूजर्स के सामने show करेगा जिनमे keywords का इस्तेमाल सही तरह से किया गया है. आपको अपने आर्टिकल की रैंकिंग और अच्छा trust बढ़ाने के लिए कीवर्ड का इस्तेमाल करना बहुत जरुरी है.

निष्कर्ष

हम उम्मीद करते है की आप जान गए होंगे की कीवर्ड क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे करते है. यहा पर हमने बहुत ही साधारण तरीके से बताया है ताकि आपको हर बात समझ में आ सके. हमारी हमेशा यशी कोशिश रहती है की हम हमारे यूजर्स को बहतर जानकारी दें.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल What is Keyword in Hindi अच्छा लगा तो इसे शेयर जरुर करें जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसके बारे में पता चलें.

Leave a Comment